प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना | Prime Minister’s Make in India Scheme

प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना | Prime Minister’s Make in India Scheme

प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना का नाम आपने कही न कही सूना ही होगा. और प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना के बारे में थोड़ी बहुत जानकारी आपको होगी ही. पर क्या आप जानते हैं प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना से जुडी पूरी जानकारी के बारे में. अब विभिन्न प्रशाशनिक व राज्य सेवा व नेशनल लेवल परीक्षाओ में भी इन योजनाओं से जुडी सवाल पूछे जाते हैं. तो चलिए देखते हैं प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना के बारे में. 

 

प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना से जुडी इन बिन्दुओ को जाने:-

  • प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना क्या है?
  • प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना का उद्देश्य क्या हैं?
  • प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना एवं रोजगार का कांसेप्ट? 
  • मेक इन इंडिया योजना में कौन-कौन से व्यवसाय सामिल हैं? 

प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना क्या है? | What is Prime Minister’s Make in India Scheme

जब हम कोई सामान खरीदते हैं तो सामान के पीछे एक बात अवश्य लिखा होता है कि वह सामान भारत का है या विदेशों का है। यदि सामान भारत का होता है तो उसमें लिखा रहता है ‘मेड इन इंडिया’ और यदि वह सामान किसी दूसरे देश का है तो वहां पर उस देश का नाम लिखा हुआ रहता है। जैसे की – मेड इन चाइना, मेड इन जापान यदि. आप और हम मोबाइल का तो इस्तिमाल करते ही हैं.

अब मोबाइल फोन की बात करें तो किसी भारतीय मोबाइल फोन के डब्बे पर आपको मेड इन इंडिया लिखा हुआ दिखाई देगा वही अगर किसी विदेशी कंपनी के फोन के डब्बे को देखेंगे तो वहां पर फोन के डब्बे पर विदेश का नाम लिखा होता है जैसे- मेड इन कोरिया, मेड इन मलेशिया इत्यादि।(यह भी जाने – आयुष्मान भारत योजना क्या हैं )

प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया के तहत भारत में उन चीजो का निर्माण किया जायेगा जो भारत में बनाया जा सकता हैं, और इसके साथ ही मेक इन इंडिया योजना के तहत भारत में बनी वस्तुओ के उपयोग पर भी जोर दिया गया हैं.

प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना का उद्देश्य | What are the main objectives of the Prime Minister’s Make in India scheme?

  1. मेक इन इंडिया योजना के जरिये भारत उन विदेशी कंपनियों को भारत में लाना चाहता हैं, जो भारत में निवेश कर अच्छा बिजनेश कर सके.
  2. मेक इन इंडिया योजना के तहत जब भारत में बनी सामानों को भारत में ही बेचा जाय यानि की इन समानो का आयत और निर्यात भारत में ही हो तो सामान कम दामो में मिलेगा.
  3. मेक इन इंडिया योजना में बनी वस्तुए देशी होंगी और इसके  साथ ही वस्तुओ की क्वालिटी में भी बढ़ोतरी देखने को मिलेगी.
सभी प्रतियोगी परीक्षाओ का सिलेबस डाऊनलोड करें – क्लिक करें 

प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना का लाभ क्या-क्या हैं | What are the benefits of Prime Minister’s Make in India Scheme

  1. रोजगार के अवसर-  मेक इन इंडिया योजना के कारण भारतवर्ष में रोजगार के अवसर बढ़े हैं. जब भारत में भारत की ही कंपनियों के साथ साथ विदेशी कंपनिया निवेश करेंगी, तब रोजगार के अवसर डबल हो सकता हैं .
  2. स्मार्ट सीटीस का निर्माण- मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट के तहत पूरे भारतवर्ष को स्मार्ट सिटी में परिवर्तित किया जाएगा। क्योकि भारत में एनी कंपनियो को व्यवसाय करने में आसन होगा.
  3. अर्थव्यवस्था में सुधार- भारत की अर्थव्यवस्था की जानकरी तो आपको होगी ही. अर्थव्यवस्था का महत्वपूर्ण हिस्स्सा भारत में बेरोजगारी की वहज से प्रभावित रहती हैं. मेक इन इंडिया योजना की वजह से भारत में रोजगार के अवसर को बढोतरी मिलेगी.
  4. वस्तुओ की मूल्य में कमी- जब मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट के तहत भारत में वस्तुओ का निर्माण किया जाएग तब आयत और निर्यात में कम खर्चा होने की वजह से वस्तुओ की मूल्य में कमी होगी.

प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना एवं रोजगार का कांसेप्ट | Prime Minister’s Make in India Scheme and the concept of employment

प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना के तहत मोदी सरकार का एक मुख्य उद्देश्य था बेरोजगारी को भारत देश से हमेशा के लिए दूर करना। मेक इन इंडिया योजना के तहत भारत देश में काफी उद्योग को स्थापित किया गया और सभी उद्योगों में प्रशिक्षित युवाओं की आवश्यकता थी। इसीलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने मेक इन इंडिया योजना को बनाया था।

जो युवा प्रशिक्षित नहीं है उनको प्रशिक्षण देने के लिए मोदी सरकार ने कौशल विकास मंत्रालय द्वारा कई कार्यक्रम चलाए हैं। वर्तमान समय में कई सारे कार्यक्रम चलाए भी जा रहे है। जिसके तहत भारत देश के युवाओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है।

मेक इन इंडिया योजना में कौन-कौन से व्यवसाय सामिल हैं? Which businesses are covered in Make in India scheme?

  • मेक इन इंडिया में ऑटो कंपोनेंट, ऑटोमोबाइल, विमानन, जैव प्रौद्योगिकी और रसायन के साथ निर्माण शामिल है. इसमें रक्षा उत्पादन, विद्युत मशीनरी, इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम डिजाइन और निर्माण, खाद्य प्रसंस्करण, आईटी एवं बीपीएम, चमड़ा और मीडिया एवं मनोरंजन सेक्टर भी शामिल है.
  • इसके अलावा खदान, तेल एवं गैस, फार्मा, बंदरगाह एवं नौवहन के साथ रेलवे जैसे कारोबार भी शामिल हैं. इसके और  मेक इन इंडिया में सड़क एवं राजमार्ग, नवीकरणीय ऊर्जा, अंतरिक्ष, वस्त्र एवं परिधान, थर्मल पावर, पर्यटन और आतिथ्य के साथ कल्याण कार्यक्रम भी शामिल हैं.

दोस्तों आज के इस प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना | Prime Minister’s Make in India Scheme से जुडी जानकारी में केवल इतना ही, प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना | Prime Minister’s Make in India Scheme

कोरोना काल के चलती मंदी के दौर से गुजरने की खबर आई थी पर अब प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया योजना | Prime Minister’s Make in India Scheme फिर से शुरुआत में हैं.

इन योजनाओ की भी जानकारी रखिये:-

Leave a Comment